Hindi sad shayari Mohabt Mukadar Hai Koi khwab Nahi

aasik ke naam se

आशिक के नाम से सभी जानते हैं
इतना बदनाम हो गए हम मयखाने में
जब भी तेरी याद आती है बेदर्द मुझे
तोह पीते हैं हम दर्द पैमाने में

aati hai teri yad aandere ki trh

आती है तेरी याद अंधेरे की तरह,
उदास करती है मुझे गम की तरह,
मुझे तो अब बस उस दिन का इंतजार है,
जब तू आएगी मेरी ज़िन्दगी में सवेरे की तरह.

ab chhod waphao ke rashte

अब छोड़ो वफाओ के किस्से ये तो न जाने कितनो का रोना है,
पहले कोन था साथ हमारे और अब कोन अपना होना है.

ab mohabta nahi rahi

अब मोहब्बत नही रही इस जमाने में,
क्योंकि लोग अब मोहब्बत नही,
मज़ाक किया करते है इस जमाने में.

ab tere bina jindgi gujara munkin nahi

अब तेरे बिना जिंदगी गुजारना मुमकिन नही है,
अब और किसी को इस दिल में बसाना आसान नही है,
हम तो तेरे पास कब के चले आये होते सब कुछ छोड़ कर,
लेकिन तूने कभी हमे दिल से पुकारा ही नही है.

ab to hm drad me

अब तो हम दर्द से खेलना सीख गये है,
अब तो हम वेबफाई के साथ जीना सीख गये है,
क्या बताये यारो की कितना दिल टूटा है हमारा,
अब तो हम मौत से पहले कफ़न ओढ़ कर सोना सीख गये है.

chehare pe hansi chha gayi

चेहरे पर हँसी छा जाती है,
आँखों में सुरूर आ जाता है,
जब तुम मुझे अपना कहते हो,
अपने आप पर ग़ुरूर आ जाता है.

dard ko dard ab hona hai

दर्द को दर्द अब होने लगा है,
दर्द अपने गम पे खुद रोने लगा है,
अब हमें दर्द से दर्द नही लगेगा,
क्योंकि दर्द हमको छू कर खुद सोने लगा है.

dhukh bhari meri jindgi

दुख भरी मेरी ज़िन्दगी को उसने
खुशियों से भरी जन्नत बना दिया
खुदा ने सुनी मेरी ऐसी पुकार
मेरे दोस्त को मेरी मांगी हुई मन्नत बना दिया.

dil; me aarju ke diye jalayenge

दिल मे आरज़ू के दिये जलते रहेगे,
आँखों से मोती निकलते रहेगे,
तुम शमा बन कर दिल में रोशनी करो,
हम मोम की तरह पिघलते रहेंगे.

do pl ko hi sahi pr meri

दो पल को ही सही पर मेरी तन्हाइयो में खो जाओ,
मैं तेरा और तुम मेरी दो पल के लिए हो जाओ.

gm kitana hai hm apko

गम कितना है हम आपको दिखा नही सकते है,
ज़ख्म कितने गहरे है ये आपको दिखा नही सकते है,
जरा हमारे इन आंसुओ को तो देख लो,
ये आंसू गिरे है कितने ये हम आपको गिना नही सकते है.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *