Nice Hindi Love Shayari Mai Wakt Ban Jau Tum Ban Jana koi Lmaha

wo lhme bana do mujhe

वो लम्हा बना दो मुझे…
जो गुजर कर भी… तुम्हारे साथ रहे…!!

tumahara ishak mere liye hwa jaisa hai

तुम्हारा इश्क़ मेरे लिए हवा जैसा है
जरा सा कम हो तो सांसे रुकने लगती हैं।

tere khayal se khud ko chupa kar dekha

तेरे ख्याल से खुद को छुपा के देखा है,
दिल-ओ-नज़र को रुला-रुला के देखा है,
तू नही तो कुछ भी नही है तेरी कसम,
मैंने कुछ पल तुझे भुला के देखा है।

tere khawab jo mile ankhe aamir ho gyi

तेरे ख्वाब जो मिले आँखें अमीर हो गयी
तेरे प्यार की दौलत ही मेरी जागीर हो गयी…

tere ahashans ke khusi rag rag me smayi hai

तेरे अहसास की खुशबू रग रग में समाई है,
अब तू ही बता क्या इसकी भी कोई दवाई है।

rhi entejar me aankhe

रही इंतजार में आंखे और
हम खड़े रहे बरसों वहीं…
न इंतजार खत्म हुआ
न चाहत कम हुई…

pana aur khona to kishmat ki bat hai

पाना और खोना तो किस्मत की बात है,
मगर चाहते रहना तो अपने हाथ में है।

rishta ko bas ish trh se bacha lena

रिश्तों को बस इस तरह से बचा लिया करो,
कभी मान जाया करो तो कभी मना लिया करो..

nahi jo dil me jgah to njr me rhne do

नही जो दिल में जगह तो नज़र में रहने दो,
मेरी हयात को तुम अपने असर में रहने दो,
मै अपनी सोच को तेरी गली में छोड़ आया हूं,
मेरे वजूद को ख़्वाबों के घर में रहने दो।

mil jao aise jaise andhere se

मिल जाओ ऐसे जैसे अंधेरे से
उजाले,, में सवेरा हो जाऊं,,
बस जाओ मुझ में रूह बन
कर,, में सुनहरा हो जाऊं।।

mt sun mere dil ki dhadakana

मत सुनो मेरे दिल की धड़कन
वरना तुम भी बीमार हो जाओगे
अगर बिता लिया मेरे साथ दो मिनट
तो तुम भी इश्क़ के गुलाम हो जाओगे।

mushaphir ishak ka hu mai

मुसाफर इश्क़ का हूं मैं
मेरी मंज़िल मुहब्बत है,
तेरे दिल में ठहर जाऊं
अगर तेरी इजाज़त है।

merri ebadat ka koi wkat

मेरी इबादत का कोई वक्त,
मुकर्रर नही होता…
तुम ख्यालों में आते हो..
हम सजदे में बैठ जाते हैं..!!!

mere sine me ek dil hai

मेरे सीने में एक दिल है
उस दिल की धड़कन हो तुम…

meri aankho me yhi se

 

मेरी आंखों में यही हद से
ज्यादा बेशुमार है,
तेरा ही इश्क़ तेरा ही दर्द
तेरा ही इंतजार है।

gujarne ko ek arja dugra

      गुजरने को एक अरजा गुजरा लेकिन  मै कभी

तुम्हारे गली से न गुजरा बड़े सुने है चर्चे तुम्हरी गली के, 

वहां से जो भी गुजरा बड़े संम्भाल  कर गुजरा  

 

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *