Top Hindi Hurt Shayari Log Khate Hai Teri Aankhe Itni Khub Surat Kyu Hai

umr mat puchho

उम्र मत पूंछो उनकी जो
इश्क में खोये रहते है,
वो हर वक्त जवां रहते हैं,
जो महबूब की आँखों में खोये रहते हैं।

unke gujarte dekha

उनको गुज़रते देखा तो
हमने आँखे बन्द कर लीं,
पायल की झनकार क्या
उठी आँखों ने तो बगाबत कर ली।

unki shari galtiyo ko ko hm

उनकी सारी गलतियों को हम,
उनकी नादानी समझ कर भूल गए,
कभी समझ में नहीं आया नादान वो थे या हम..!!

ye hawye suno

ऐ हवाओं सुनो ज़रा
पैगामे मोहब्बत न लाओ,
अगर मिज़ाज़ इतना आशिकाना है
तो मेरे महबूब को ही ले आओ।

aab tere bina jindgi gujarana

अब तेरे बिना जिंदगी गुजारना मुमकिन नही है,
अब और किसी को इस दिल में बसाना आसान नही है,
हम तो तेरे पास कब के चले आये होते सब कुछ छोड़ कर,
लेकिन तूने कभी हमे दिल से पुकारा ही नही है।

aag lagi dil me

आग लगी दिल में जब वो खफ़ा हुए,
एहसास हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
करके वफ़ा वो हमे कुछ दे न सके,
लेकिन दे गये बहुत कुछ जब वो वेबफा हुए।

bahut sukun milata

बहुत सुकून मिलता है जब उनसे हमारी बात होती है,
वो हजारो रातों में वो एक रात होती है,
जब निगाहें उठा कर देखते हैं वो मेरी तरफ,
तब वो ही पल मेरे लीये पूरी कायनात होती है।

chaha na ushne mujhe

चाहा ना उसने मुझे बस देखता रहा
मेरी ज़िंदगी से वो इस तरह खेलता रहा
ना उतरा कभी मेरी ज़िंदगी की झील में
बस किनारे पर बैठा पथर फेंकता रहा ।।

dil ehsash janta hai

दिल का एहसास जानना है तो प्यार करके देखो,
अपनी आँखों में किसी को उतार कर तो देखो,
चोट उन्हें लगेगी दर्द तुम्हे होगा,
जरा अपना दिल एक बार हार कर तो देखो।

 

dil me aarju ke diye jlaye

दिल मे आरज़ू के दिये जलते रहेगे।
आँखों से मोती निकलते रहेगे।
तुम शमा बन कर दिल में रोशनी करो।
हम मोम की तरह पिघलते रहेंगे।

dilo ka hal batana nahi aata hai

दिल का हाल बताना नही आता,
हमे ऐसे किसी को तड़पाना नही आता,
सुनना तो चाहतें हैं हम उनकी आवाज़ को,
पर हमे कोई बात करने का बहाना नही आता।

drad ko drad aab hone

दर्द को दर्द अब होने लगा है।
दर्द अपने गम पे खुद रोने लगा है।
अब हमें दर्द से दर्द नही लगेगा।
क्योंकि दर्द हमको छू कर खुद सोने लगा है।

 

do bat kaya kare

वो बात क्या करें जिसकी कोई खबर ना हो।
वो दुआ क्या करें जिसका कोई असर ना हो।
कैसे कह दे कि लग जाय हमारी उमर आपको।
क्या पता अगले पल हमारी उमर ना हो।

durya bhut hai

दूरियां बहुत हैं मगर पास
रहकर ही कोई खास नही होता,
और तुम तो मेरे दिल के इतने पास हो
की मुझे दूरियों का एहसास नही होता।

hamari nrajgi ka ehshansh

हमारी नाराज़गी का एहसास
भी उन्ही को होता है, जो हमे
सबसे अलग चाहते हैं।

 

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *